happy independence day 2018 – Why pakistan celebrate independence day on 14 august

happy independence day 2018

दोस्तो आज हम आपको भारत का स्वतंत्रता दिवस पाकिस्तान के स्वतंत्रता दिवस से 1 दिन बाद क्यो आता है। और क्यो भारत की आजादी का ऐलान रात के 12 बजे हुआ था। आज हम इन विषयो पर बात करेंगे।

happy independence day

happy independence day 2018

जब 1947 में भारत के आखरी ब्रिटिश वोइसराय, लार्ड माउन्ट बेटन को Transfer Of Power From British Tool to Indian Government के लिये अपॉइंट किया गया था।

happy independence day

गांधीजी, चाचा नेहरू, जिन्ना 1947 का वीडियो देखने के लिए यहाँ क्लिक करे।

जैसे ही ये घोषणा की गई की भारत 15 अगस्त को स्वतंत्र घोषित किया जायेगा। तो भारत के ज्योतिषों ने इसका विरोध किया क्योकि उनका मानना था। की पूरे देश के लिए 15 अगस्त की तारीख बहुत ही अशुभ है।

happy independence day

लेकिन फिर भी लार्ड माउंटबेटन अपनी बात पर अड़े रहे। और 15 अगस्त की तारीख को बदलने के प्रस्ताव पर मना कर दिया।

happy independence day

फिर एक आखरी रास्ता ही बचा हुआ था की भारत अपनी आजादी की घोषणा 14 तारीख की रात को 12 बजे करे क्योकि उस वक्त इंग्लिश केलिन्डर के मुताबिक 15 ऑगस्ट शुरू हो जायेगा

happy independence day

और वैदिक केलिन्डर के मुताबिक सूर्योदय तक तारीख 14 ऑगस्ट ही रहेगी। ये विकल्प दोनों देशो को मंजूर हुआ और यही कारन है की भारत के आजादी की घोषणा रात के 12 बजे की गई।

पाकिस्तान का स्वतंत्रता दिवस 14 अगस्त को मनाया जाता है। और भारत में 15 अगस्त को मनाया जाता है।

गांधीजी, चाचा नेहरू, जिन्ना 1947 का वीडियो देखने के लिए यहाँ क्लिक करे।

happy independence day Why pakistan celebrate independence day on 14 august

क्योकि बर्मा के आखरी ब्रिटिश वोइसराय लार्ड माउंट बेटन को भारत और पाकिस्तान दोनों देशो के समारोह में शामिल होना था इसीलिए 1947 में ट्रांसफर ऑफ़ पावर के लिए आयोजित समारोह पाकिस्तान में एक दिन पहले आयोजित किया गया था। इसीलिये पाकिस्तान में 14 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस मनाया जाता है। और 1 दिन बाद अर्थात 15 अगस्त को भारत मे मानया जाता है।

 

Share With Your Friends..

Facebook Comments

About Shashikant Nimje

My name is Shashikant Nimje You can call me a You-tuber a Blogger, who is eager to learn & grow in his life i don’t want to work, i want to enjoy my work.

View all posts by Shashikant Nimje →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *