ह्यूमन राईट – शादीशुदा लोगो को लिव इन रिलेशनशिप में रहना है गैरक़ानूनी।

दोस्तों आज हम आपको कुछ ह्यूमन राइट्स के बारे में बताएँगे जिसे काफी कम लोग जानते है। दोस्तों सुप्रीम कोर्ट द्वारा कहा गया है की लिव इन रिलेशनशिप में रहना कोई अपराध या पाप नहीं है। बड़े-बड़े शहरो में लिव इन रिलेशनशिप की लोकप्रियता और स्वीकार्यता बढ़ती ही जा रही है। मगर सुप्रीम कोर्ट ने कुछ कायदे और नियम लागु किए गए है। जिसे हर व्यक्ति को समझना और जानना जरुरी है।

नंबर 1 – शादीशुदा लोगो का किसी दूसरे के साथ लिव इन रिलेशन शिप में रहना पूरी तरह गैर कानूनी है।

नंबर 2 – यह सामाजिक अपराध की भी श्रेणी में आता है, ऐसा करके महिला या पुरूष अपने जीवन साथी को धोखा देते है।

नंबर 3 – ऐसे लोगो के खिलाफ क्रिमिनल केस दर्ज कर कड़ी कार्रवाई की जा सकती है।

नंबर 4 – सिर्फ कुंवारे ,तलाकशुदा ,विधवा ,या विधुर ही किसी के साथ लिव इन रिलेशन शिप में रह सकते है।

नंबर 5 – यदि कोई पुरुष शादीशुदा होने के बाद भी लिव इन रिलेशनशिप रखता है, तो उस पर आईपीसी के सेक्शन 497 के तहत केस चल सकता है।

दोस्तों ह्यूमन राइट्स के बारेमे अधिक जानकारी के लिए हमारे Youtube चैनल को Subcribe जरुर करे । पोस्ट पढने के लिए धन्यवाद ।

Share With Your Friends..

Facebook Comments

About Shashikant Nimje

My name is Shashikant Nimje You can call me a You-tuber a Blogger, who is eager to learn & grow in his life i don’t want to work, i want to enjoy my work.

View all posts by Shashikant Nimje →

One Comment on “ह्यूमन राईट – शादीशुदा लोगो को लिव इन रिलेशनशिप में रहना है गैरक़ानूनी।”

  1. It is the best time to make some plans for the future and it is time to be happy. I have read this post and if I could I wish to suggest you some interesting things or suggestions. Maybe you could write next articles referring to this article. I desire to read even more things about it!|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *